कांग्रेस घोषणापत्र में वादा: राफेल सहित सभी रक्षा सौदों की होगी जांच

नई दिल्ली। कांग्रेस द्वारा लोकसभा चुनाव के लिए आज जारी किये गए घोषणा पत्र “हम निभाएंगे” में कहा गया है कि यदि कांग्रेस पार्टी सत्ता में आती है तो मोदी सरकार के कार्यकाल में हुए सभी रक्षा सौदों की जांच की जाएगी। इसमें राफेल डील भी शामिल है।

पार्टी ने कहा, ”कांग्रेस उन कारकों और परिस्थितियों की भी जांच करेगी। जिसके तहत पिछले पांच वर्ष में अनेक भ्रष्टाचारियों और घोटालेबाजों को देश छोड़ने की इजाजत दी गई। उन्हें वापस लाकर कानून के तहत कार्रवाई की जाएगी।”

चुनाव घोषणा पत्र में राफेल डील सहित मोदी सरकार के कार्यकाल में हुए रक्षा सौदों की जांच कराने की बात कहकर कांग्रेस ने अपने इरादे जता दिए हैं। पार्टी शुरू से ही संसद के अंदर और संसद के बाहर राफेल डील में अनियमितता होने के आरोप लगाते हुए इसकी जेपीसी से जांच की मांग करती रही है।

खुद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अपनी सभाओं में राफेल डील को लेकर मोदी सरकार को घेरते रहे हैं। इतना ही नहीं राफेल डील में हुए खुलासो के बाद ही चौकीदार ही चोर है मुहिम ने ज़ोर पकड़ा है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपनी सभाओं में चौकीदार चोर है के नारे भी लगवाए हैं।

वहीँ राफेल डील को लेकर मोदी सरकार शुरू से खुद को पाक दामन बताती रही है। खुद को पाक दामन साबित करने के लिए मोदी सरकार के मंत्री सुप्रीमकोर्ट के उस फैसले का हवाला देते हैं जिस पर कोर्ट पुनर्विचार याचिकाओं पर सुनवाई कर रहा है। रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण रक्षा सौदे की गोपनीयता का हवाला देते हुए संसद में राफेल डील की कीमत बताने को तैयार नहीं थीं।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें