कांग्रेस को शक: राज्य सभा चुनाव में बीजेपी कर सकती है ये गड़बड़

नई दिल्ली। राज्य सभा की खाली हुई सीटों पर होने वाले चुनाव से पहले कांग्रेस ने संदेह ज़ाहिर करते हुए राज्य सभा की खाली हुई इन सीटों के लिए होने वाले चुनाव में गड़बड़ हो सकती है।

कांग्रेस ने गुरुवार को आरोप लगाया कि अमित शाह और स्मृति ईरानी द्वारा खाली की गई राज्यसभा सीटों पर अलग अलग तारीखों पर चुनाव बीजेपी की जीत सुनिश्चित करने की कोशिश है। अमित शाह के गांधीनगर से लोकसभा चुनाव जीतने के बाद 28 मई को राज्यसभा सीट खाली हुई थी। स्मृति ईरानी की सीट इसके एक दिन बाद खाली हुई थी।

कांग्रेस के प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि हम चुनाव आयोग से अमित शाह और स्मृति ईरानी द्वारा खाली की गई राज्यसभा सीट पर एक साथ चुनाव कराने का अनुरोध करना चाहते हैं। उन्होने कहा कि यदि एक चुनाव आज है और एक दो सप्ताह,चार सप्ताह या फिर 6 सप्ताह बाद है तो ऐसे में सत्ताराधारी पार्टी के विधायक आसानी से गुजरात विधानसभा में 51 फीसदी का आंकड़ा पार कर लेंगे।

अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि एक साथ चुनाव होने पर एक सीट बीजेपी और एक सीट कांग्रेस जीत सकती है। उन्होंने अलग-अलग चुनाव कानून के खिलाफ होगा।

सिंघवी ने कहा कि गुजरात विधानसभा में भाजपा के 99 विधायक हैं और कांग्रेस के पास 77 हैं। यदि प्रत्येक सीट पर चुनाव अलग-अलग दिनों में होता है, तो बीजपी जीत हासिल करेगी। उन्होंने चुनाव आयोग के फैसले पर चिंता जताते हुए कहा कि आम चुनाव में कई फैसलों की वजह से उनकी निष्पक्षता संदेह के घेरे में है।

गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव में बीजेपी के कई राज्य सभा सांसदो के चुनाव जीतने के बाद राज्य सभा में उनकी सीटें खाली हो गयीं हैं। भाजपा के वरिष्ठ नेता पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ,रविशंकर प्रसाद और स्मृति ईरानी लोकसभा चुनाव जीतने के बाद अब राज्यसभा सदस्य नहीं रहे। वहीं द्रमुक नेता कनिमोझी भी लोकसभा चुनाव जीतने के बाद अब उच्च सदन की सदस्य नहीं रह गई हैं। राज्य सभा की खाली हुई सीटों के लिए जल्द ही चुनाव होना है।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें