कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव के नेतृत्व में कासगंज जा रहे कांग्रेस नेताओं को पुलिस ने रोका

अलीगढ। हिंसा से झुलसे कासगंज में पीड़ित लोगों से मिलने जा रहे कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव विवेक बंसल और उनके साथ करीब दो दर्जन कार्यकर्ताओं को पुलिस ने अलीगढ में ही रोक दिया। जिसका कांग्रेस नेताओं ने जमकर विरोध किया और वहीँ धरने पर बैठ गए।

पुलिस द्वारा रोके जाने का विरोध करते हुए कांग्रेस नेताओं ने कहा कि बड़े अफ़सोस की बात है कि बीजेपी नेता कासगंज का दौरा कर सकते हैं लेकिन कांग्रेस नेताओं को कासगंज जाने से रोका जा रहा है।

जानकारी के अनुसार जब कासगंज जाने के लिए कांग्रेस नेता राष्ट्रीय सचिव विवेक बंसल के यहाँ कांग्रेस कार्यकर्त्ता जुटे तो पुलिस वहां पहुँच गयी और सभी कांग्रेस कार्यकर्ताओं को वहीँ रोक लिया।

कांग्रेस नेताओं ने विरोध प्रगट करते हुए पुलिस पर नज़रबंद करने का आरोप लगाया है। कांग्रेस नेताओं ने कहा कि यह लोकतंत्र की मर्यादाओं के खिलाफ है। सिर्फ कांग्रेस नेताओं को ही कासगंज जाने से क्यों रोका जा रहा है।

कांग्रेस नेताओं ने कहा कि चंद महीनो के शासन में बीजेपी ने सिद्ध कर दिया है कि उसकी साम्प्रदायिकता को बढ़ावा देने की अपनी आदतों में कोई सुधार नहीं हुआ है। कांग्रेस नेताओं ने आरोप लगाया कि कासगंज में हिंसा सुनियोजित थी और इसकी उच्चस्तरीय निष्पक्ष जांच होनी चाहिए।

इस अवसर पर पूर्व मंत्री सतीश शर्मा तथा नसीम खान सहित सागर सिंह तोमर नीलाभ भार्गव, अविनाश शर्मा, आनंद बघेल, शीलू चंदेल, राजू सोल्जर, आकाश आर्यन, उमेश ठाकुर, सोनवीर सिंह, अमजद हुसैन, बिजेंद्र बघेल, अनिल चौहान, विजय लक्ष्मी सहित कांग्रेस के तमाम नेता मौजूद थे।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *