किसानो के मुद्दे पर आज 41किसान संगठनों के साथ कांग्रेस करेगी संसद का घेराव

नई दिल्ली। किसानो की समस्याओं को लेकर कांग्रेस आज किसानों के 41संगठनों के साथ मिलकर संसद का घेराव करेगी। इस प्रदर्शन की अगुवाई कांग्रेस का फ्रंटल संगठन किसान खेत मजदूर कांग्रेस कर रहा है। इसमें कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के भी मौजूद रहने की उम्मीद जताई जा रही है।

गौरतलब है कि पिछले काफी समय से किसानो की समस्याओं को लेकर कांग्रेस मोदी सरकार पर लगातार दबाव बना रही है। स्वयं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी किसानो की समस्याओं को लेकर आवाज़ बुलंद करते रहे हैं।

आज दिल्ली में कांग्रेस द्वारा आयोजित संसद के घेराव कार्यक्रम में देशभर से किसानो के 41 बड़े संगठन भाग ले रहे हैं। किसानो की अहम मांगो में कर्ज माफी, कृषि उत्पादों की वाजिब कीमत, खेत मजदूरों की दिक्कतें दूर किए जाना शामिल हैं।

किसान खेत मजदुर कांग्रेस के अध्यक्ष नाना पटोले के मुताबिक मंगलवार को किसान पहले पार्लियामेंट स्ट्रीट पर इकट्ठा होंगे। जहां उन्हें नेताओं की ओर से संबोधित किया जाएगा। इसके बाद ‘किसान खेत मजदूर कांग्रेस’ के कार्यकर्ता, किसान, खेत मजदूर संसद भवन की ओर मार्च करेंगे।

पटोले ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने 2014 लोकसभा चुनाव के प्रचार के दौरान लंबे-चौड़े वादे किए थे लेकिन उन्होंने एक भी वादा पूरा नहीं किया. प्रधानमंत्री मोदी और बीजेपी ने गरीब किसानों और खेत मजदूरों को धोखा दिया है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस मंगलवार को दिल्ली में विरोध मार्च के साथ ही देशव्यापी अभियान की शुरुआत करेगी। इसके बाद देश के अन्य हिस्सों में इसी तरह के प्रदर्शन किए जाएंगे। अगले साल के शुरू में दिल्ली में बड़ी किसान रैली का आयोजन किया जाएगा।

गौरतलब है कि अभी 2 अक्टूबर के दिन किसानो द्वारा डीजल की बढ़ी कीमतों और किसानो की कर्ज माफ़ी और गन्ना के बकाये के भुगतान को लेकर उत्तराखंड तथा पश्चिमी उत्तर प्रदेश से आये किसानो को दिल्ली में प्रवेश नहीं करने दिया गया था।

पुलिस ने किसानो को दिल्ली यूपी बॉर्डर पर रोक लिया था साथ ही प्रदर्शनकारी किसानो पर लाठीचार्ज भी किया गया था। इससे सरकार की बहुत किरकिरी हुई थी।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें