कश्मीर में गिरफ्तारी की खबरों पर भारतीय मूल की अमेरिकी सांसद ने जताई चिंता

न्यूयॉर्क। कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद वहां बड़ी तादाद में गिरफ्तारी की खबरों पर भारतीय मूल की अमेरिकी सांसद प्रमिला जयपाल ने चिंता ज़ाहिर की है।

अमेरिकी प्रतिनिधि सभा की सदस्य प्रमिला जयपाल ने कहा,‘कश्मीर में भारत सरकार द्वारा 2,000 लोगों की गिरफ्तारियां किये जाने की खबरों से बहुत परेशान हूं।’

उन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट पर न्यूयार्क टाइम्स की एक खबर भी शेयर की। अमेरिकी सांसद एडम स्कीफ ने कहा कि अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता और सूचना तक पहुंच जैसे मूलभूत मानवाधिकारों का अवश्य संरक्षण किया जाना चाहिए।

प्रमिला जयपाल ने कहा ‘लोकतंत्र में पारदर्शिता, उचित प्रक्रिया, एकत्र होने एवं वाक् एवं अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता जरूरी होती है। ये बिल्कुल ही आवश्यक हैं, यहां तक कि सर्वाधिक जटिल परिस्थितियों में भी।’

गौरतलब है कि जहाँ एक तरफ जम्मू कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मालिक राज्य में स्थति सामान्य होने के दावे कर रहे हैं। वहीँ कई विदेशी अखबारों और टीवी चैनलों में कश्मीर को लेकर जो ख़बरें आयी हैं वह राज्यपाल सत्यपाल मालिक के दावों से मेल नहीं खातीं।

24 अगस्त को कांग्रेस नेता राहुल गांधी के साथ गए विपक्षी दलों के एक प्रतिनिधिमंडल को श्रीनगर में प्रवेश नहीं करने दिया गया और इस प्रतिनिधिमंडल को वापस दिल्ली भेज दिया गया था।

राहुल गांधी ने दिल्ली वापस आकर जम्मू कश्मीर की स्थति को लेकर सवाल उठाये। उन्होंने कहा कि यदि राज्य में सबकुछ सामान्य है तो विपक्षी दलों के नेताओं को श्रीनगर में प्रवेश क्यों नहीं करने दिया। उन्होंने कहा कि साफ़ है कि जम्मू कश्मीर में सबकुछ ठीक नहीं है।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें