कर्नाटक सरकार का किसानो को तोहफा : 34 हजार करोड़ की कर्जमाफी

बेंगलुरु। कर्नाटक में जेडीएस कांग्रेस गठबंधन सरकार के मुख्यमंत्री कुमार स्वामी ने आज पेश किये गए बजट में किसानो के लिए 34 हज़ार करोड़ की क़र्ज़ माफ़ी का एलान किया है।

सीएम कुमरास्वामी ने बजट पेश करते हुए कहा कि राज्य के किसानों को 31 दिसंबर 2017 तक लिए गए कर्ज पर ऋण माफी का लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा कि किसानों की कर्ज माफी का यह पहला चरण है।

सरकार के इस ऐलान से राज्य के 25 हजार किसानों को फायदा मिलेगा। कुमारास्वामी ने कहा कि राज्य में हर किसान के 2 लाख रुपये माफ होंगे।

राज्य का बजट पेश करते हुए सीएम कुमारास्वामी ने कहा, “कर्नाटक के प्राइमरी स्कूलों में कन्नड़ माध्यम के साथ अंग्रेजी की कक्षाएं भी शुरू की जाएंगी, ताकि ज्यादा से ज्यादा बच्चों को सरकारी स्कूल की तरफ आकर्षित किया जा सके। एक हजार स्कूलों में यह प्रयोग किया जाएगा।”

कर्नाटक सरकार ने बजट में बेंगलुरु झील के जीर्णोद्धार के लिए 50 करोड़ रुपये के आवंटन की घोषणा की है। इसके अलावा सरकार ने राज्य में आदि शंकराचार्य जयंती के आयोजन का ऐलान किया है।

कर्नाटक सरकार ने बजट में पेट्रोल-डीजल पर लगने वाले टैक्स में बढ़ोतरी करने का ऐलान किया है। पेट्रोल पर टैक्स 30 से बढाकर 32 फीसदी और डीजल पर टैक्स 19 से 21 फीसदी कर दिया गया है, जिसके बाद राज्य में पेट्रोल 1.14 रुपये प्रति लीटर और डीजल 1.20 रुपये प्रति लीटर महंगा हो जाएगा।

बजट पेश करते हुए सीएम एचडी कुमारास्वामी ने बताया कि 2017-18 में कर्नाटक की जीएसडीपी की दर 8.5 फीसदी रही, जबकि पिछली समान अवधि में यह 7.5 फीसदी रही थी।

कुमार स्वामी ने एलान किया कि बेंगलुरु में इंदिरा केंटीन की लोकप्रियता को देखते हुए प्रदेश के सभी जिला मुख्यालयों और तालुको में 247 नई इंदिरा कैंटीन खोले जायेंगे।

कर्नाटक सरकार द्वारा आज पेश किये जा रहे बजट पर अभी विपक्ष की प्रतिक्रिया आनी बाकी है। पेट्रोल डीजल पर टेक्स में बढ़ोत्तरी के अलावा कुल मिलकर बजट को अच्छा माना जा रहा है।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें