कर्नाटक में सियासी हलचल- निर्दलीय विधायकों ने सरकार से लिया समर्थन वापस

बेंगलुरु। कर्नाटक में एक बार फिर सियासी हलचल तेज हो गयी है। जहाँ एक तरफ बीजेपी विधायकों को दिल्ली बुला लिया गया है वहीँ अब खबर है कि निर्दलीय विधायकों ने कांग्रेस-जेडीएस सरकार से समर्थन वापस ले लिया है।

जानकारी के मुताबिक 2 निर्दलीय विधायकों एच नागेश और आर शंकर ने राज्यपाल को लिखे पत्र में सरकार से समर्थन वापस लेने की बात कही है। हालाँकि निर्दलीय विधायकों द्वारा समर्थन वापस लिए जाने के बावजूद राज्य की कांग्रेस जेडीएस सरकार को कोई खतरा नहीं है।

दो निर्दलीय विधायकों द्वारा समर्थन वापस लेने के एलान के बाद अब 224 सीटों वाली कर्नाटक विधानसभा में अब राज्य सरकार के पास 117 विधायक ही बचे हैं, 116 विधायक कांग्रेस और जनता दल सेक्युलर गठबंधन के हैं जबकि 1 विधायक बसपा का है।

माना जा रहा है कि दोनों निर्दलीय विधायक बीजेपी के सम्पर्क में बने हुए हैं। कांग्रेस का आरोप है कि राज्य सरकार को अस्थिर करने के लिए बीजेपी हॉर्स ट्रेडिंग करने की कोशिश कर रही है।

वहीँ इससे पहले कर्नाटक के सभी बीजेपी विधायक दिल्ली पहुँच चुके हैं और उन्हें गुरुग्राम के एक रिसोर्ट में रुकाया गया है। खुद राज्य बीजेपी अध्यक्ष एम् येदुरप्पा विधायकों के साथ रुके हैं। माना जा रहा है कि एक विशेष रणनीति के तहत सभी बीजेपी विधायकों को दिल्ली बुलाया गया है।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें