कर्नाटक में जनता के नहीं ‘गायो के अच्छे दिन’ है बीजेपी का चुनावी मुद्दा

नई दिल्ली। कर्नाटक में होने जा रहे विधानसभा चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी के एक एमएलए के बयान से पार्टी की मुश्किलें बढ़ती नज़र आ रही हैं। विधानपरिषद के सदस्य केएस. ईश्‍वरप्‍पा ने दावा किया है कि विधानसभा चुनाव में बीजेपी का मुद्दा गायो की सुरक्षा और गायो के अच्छे दिन लाना है।

बीजेपी विधायक ने दावा किया कि उनकी पार्टी गौरक्षा के मुद्दे पर वोट मांगेगी और इसमें जनता का पूरा सहयोग मिलेगा। ईश्‍वरप्‍पा ने सोमवार को कहा था कि भाजपा के शासन में आने पर मवेशियों की तस्‍करी और अवैध तरीके से काटने पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने के लिए एक कानून लाया जाएगा।

उन्‍होंने कहा कि भाजपा के सत्‍ता में आने पर गायों को काटने वाले बूचड़खानों को बंद कर दिया जाएगा। एक सवाल के जवाब में ईश्‍वरप्‍पा ने कहा कि वह बीफ खाने के खिलाफ नहीं हैं, बल्कि पशुओं की तस्‍करी और उसे अवैध तरीके से काटने के विरोधी हैं।

बीजेपी विधायक ईश्‍वरप्‍पा द्वारा गायो के अच्छे दिन लाना बीजेपी का चुनावी मुद्दा बताये जाने के बाद सोशल मीडिया पर उनकी जमकर खिंचाई हो रही है। सोशल मीडिया पर लोग पूछ रहे हैं कि जनता के अच्छे दिन कब आएंगे। कुछ यूजर्स ने कटाक्ष किया कि 2014 से 2018 आ गयी लेकिन जनता के अच्छे दिन नहीं आये।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें