कर्नाटक में उठापटक के बीच बिहार में राजद ने किया सरकार बनाने का दावा पेश

पटना। कर्नाटक में सत्ता के लिए चल रही उठापटक के बीच राष्ट्रीय जनता दल ने बिहार में राज्यपाल के समक्ष सरकार बनाने का दावा पेश किया है। राष्ट्रीय जनता दल ने ये दावा कर्नाटक में सबसे बड़ी पार्टी भाजपा को सरकार बनाने का मौका दिए जाने को आधार बनाकर किया है।

इस दावे के साथ राजद, कांग्रेस और भाकपा (माले) के नेताओं ने राज्य के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव के नेतृत्व में शुक्रवार को राज्यपाल सतपाल मलिक से मुलाकात की।

राजद और उसकी सहयोगी पार्टियों कांग्रेस, माकपा हिंदुस्‍तानी आवाम मोर्चा (हम) द्वारा राज्यपाल को सौंपे गए पत्र में कहा गया है कि राजद बिहार विधानसभा में सबसे बड़ी पार्टी है इसलिए इसे सरकार बनाने का आमंत्रण दिया जाए।

कांग्रेस ने अपने पत्र में कहा है कि जिस तरह से कर्नाटक के राज्यपाल ने सबसे बड़ी पार्टी के नाते भाजपा को सरकार बनाने का आमंत्रण दिया उसी तरह बिहार में सबसे बड़ी पार्टी होने के नाते राजद को भी सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया जाना चाहिए। इस पत्र पर प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष कौकब कादरी का हस्ताक्षर है। कांग्रेस विधायक दल के नेता सदानंद के हस्ताक्षर वाला एक पत्र भी सौंपा गया है जिसमें कहा गया है कि कांग्रेस विधानमंडल दल राजद के साथ है।

भाकपा (माले) ने अपने पत्र में कहा है कि बिहार की भाजपा-जदयू की असंवैधानिक सरकार को तत्काल भंग करके राष्ट्रीय जनता दल को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया जाए। इस पत्र पार्टी के राज्य महासचिव कुणाल का हस्ताक्षर है।

राज्यपाल से मिलने जाने से पहले तेजस्वी यादव ने कहा कि हमारे पास कई पार्टियों और विधायकों का समर्थन प्राप्त है। इसके सहारे वे अपना बहुमत साबित कर सकते हैं।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *