कर्नाटक: पूर्व सीएम एस एम कृष्णा का बीजेपी से मोह भंग, कभी भी हो सकती है घर वापसी

नई दिल्ली। पिछले साल कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री एस एम कृष्णा जल्द ही कांग्रेस में घर वापसी कर सकते हैं। एस एम कृष्णा के बीजेपी में शामिल होने के बाद कयास लगाए जा रहे थे कि उन्हें बीजेपी में बड़ी ज़िम्मेदारी मिल सकती है लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

सूत्रों की माने तो पूर्व मुख्यमंत्री एस एम् कृष्णा को बीजेपी में हाशिये पर रखा गया है उन्हें चुनाव और राज्य की राजनीति में भारतीय जनता पार्टी ने कोई विशेष भूमिका नहीं दी है। यही कारण है कि एस एम कृष्णा खुद को बीजेपी में अलग थलग महसूस कर रहे हैं।

सूत्रों के अनुसार एस एम कृष्णा ने भले ही किसी भी कारण से कांग्रेस छोड़ी हो लेकिन वे एक वर्ष के अंतराल में भी वे खुद को बीजेपी में एडजस्ट नहीं कर पाए। वहीँ सूत्रों की माने तो बीजेपी नेताओं की सांप्रदायिक भाषा और कट्टर हिंदुत्व की राजनीति पूर्व सीएम एस एम् कृष्णा के गले नहीं उतर रही है।

एस एम कृष्णा के कांग्रेस में वापसी को लेकर कयास लगना शुरू हो गए हैं। ;हालाँकि एस एम कृष्णा की कांग्रेस में वापसी को लेकर हाल ही में मीडिया ने जब यह सवाल कर्नाटक के सीएम सिद्धारमैया से किया तो उन्होंने इस पर कोई जबाव नहीं दिया और वे सवाल को टाल गए।

एएनआई ने कृष्णा के पार्टी बदलने के सवाल पर कर्नाटक के सीएम बोले, “मुझे नहीं पता।” एक अन्य कांग्रेसी नेता के.रहमान खान से भी इस बारे में प्रतिक्रिया ली गई। उन्होंने बताया, “पार्टी सभी का स्वागत करती है। लेकिन हमें अभी इस बारे में कोई जानकारी नहीं है।”

वहीँ कांग्रेस सूत्रों की माने तो पूर्व सीएम एस एम कृष्णा ने कांग्रेस में अपनी वापसी को लेकर कांग्रेस की शीर्ष नेता सोनिया गांधी से फोन पर बात की है। सूत्रों के मुताबिक एस एम कृष्णा जल्द ही कांग्रेस में कमबैक करेंगे।

बता दें कि कर्नाटक में 12 मई को यहां 225 सदस्यीय विधानसभा के चुनावों के लिए मतदान होगा, जबकि 15 मई को चुनाव का परिणाम आएगा। राज्य में सत्तारूढ़ कांग्रेस और विपक्षी बीजेपी ने चुनाव में पूरी ताकत झौंक रखी है।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें