कटियार को मिला उन्ही की भाषा में जबाव: ये देश तुम्हारे बाप का नहीं है

नई दिल्ली। बीजेपी नेता विनय कटियार के मुसलमानो को पाकिस्तान और बांग्लादेश भेजे जाने वाले बयान पर नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्ला ने उन्ही की भाषा में जबाव दिया है।

फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि यह देश विनय कटियार के बाप का नहीं है। उन्होंने सवाल किया कि जहाँ तक कटियार साहब का सवाल है तो वे तो ऐसी कहते हैं। क्या यह देश विनय कटियार के बाप का है या हम सब का देश है।

फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि जो ऐसी बातें करते हैं वो नफरत फैलाते हैं, धर्म नफरत की बात नहीं सिखाता। हर एक धर्म प्रेम, इज्जत की बात सिखाता है और शांति का रास्ता दिखाता है।

बता दें कि बीजेपी नेता विनय कटियार ने बुधवार को कहा था कि मुसलमानो का यहाँ क्या काम, उन्हें तो पाकिस्तान, बांग्लादेश भेज देना चाहिए। कटियार का यह बयान आईओएनसी यूएसए के पूर्व अध्यक्ष जुनेद क़ाज़ी और आल इंडिया मजलिस ऐ इत्तेहादुल मुस्लिमीन के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी के उस बयांन के बाद आया जिसमे उन्होंने भारतीय मुसलमानो को पाकिस्तानी कहे जाने के खिलाफ कानून बनाये जाने की मांग उठायी थी।

जुनेद क़ाज़ी ने यह मुद्दा उठाते हुए कहा कि किसी भी भारतीय का अपमान नहीं किया जाना चाहिए चाहे वह किसी भी धर्म या जाति से हो। उन्होंने कहा कि अनेकता में एकता हमारी पहचान रही है। हमे इस पहचान को बरक़रार रखना है। इसके लिए ज़रूरी है कि सभी धर्मो और जाति के लोगों को बराबर सम्मान मिले।

पीएम नरेंद्र मोदी से प्रभावित होने के बावजूद जुनेद क़ाज़ी ने पार्टी लाइन से अलग हटकर इस मुद्दे को उठाते हुए देश में एससी/एसटी एक्ट की तरह एक ऐसा कानून बनाये जाने के लिए आवाज़ उठायी। जिसमे यदि कोई भारतीय मुसलमानो को पाकिस्तान का नाम लेकर प्रताड़ित या अपमानित करे तो ऐसे व्यक्ति को जेल की सलाखों के पीछे भेजा जा सके।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें