एमपी में बीजेपी के लिए खतरे की घंटी, राधोगढ़ नगरपालिका में कांग्रेस ने जीतीं 24 में से 20 सीटें

भोपाल। मध्य प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी के लिए बड़ा अलर्ट है। राधोगढ़ नगरपालिका चुनाव में कांग्रेस ने 24 में से 20 वार्डो पर कब्ज़ा जमाया है। वहीँ भारतीय जनता पार्टी को मात्र 4 वार्डो में ही सफलता हासिल हुई है।

वहीँ नगर पालिका अध्‍यक्ष पद पर भी कांग्रेस उम्मीदवार की जीत हुई है। नगरपालिका अध्यक्ष पद के लिए कांग्रेस की आरती शर्मा ने बीजेपी की मायादेवी अग्रवाल को पराजित कर दिया है।

राधोगढ़ में नगर पालिका चुनावो के लिए स्वयं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी जमकर प्रचार किया था। वहीँ मध्य प्रदेश बीजेपी के कई कद्दावर नेताओं ने चुनाव प्रचार के लिए काफी से पहले से डेरा जमा लिया था।

राधोगढ़ को कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह का गढ़ माना जाता है। राधोगढ़ नगर पालिका चुनाव में दिग्विजय सिंह के बेटे और कांग्रेस विधायक जयवर्धन सिंह ने जमकर प्रचार किया था।

जानकारों की माने तो राधोगढ़ के चुनावी नतीजे बीजेपी के लिए खतरे की घंटी से कम नहीं हैं। यहाँ सीएम शिवराज सिंह द्वारा स्वयं प्रचार करने के बावजूद जनता ने बीजेपी को बुरी तरह नकार दिया है।

गौरतलब है कि मध्य प्रदेश में इस वर्ष विधानसभा के चुनाव भी होने हैं। ऐसे में राधोगढ़ में कांग्रेस की जीत के डंके की आवाज़ आसपास के इलाको तक गूंजेगी और इसका असर विधानसभा चुनावो में भी दिखाई दे सकता है।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें