एन चुनाव के मौके पर कर्नाटक में बीजेपी को झटका, इन तीन विज्ञापनों पर लगी रोक

बेंगलुरु। कर्नाटक में एन चुनाव के मौके पर बीजेपी को बड़ा झटका लगा है। चुनावो के लिए बीजेपी द्वारा जारी किये गए तीन विज्ञापन अब नहीं दिखाए जा सकेंगे।

मीडिया प्रमाणन और निगरानी समिति (एमसीएमसी) ने भारतीय जनता पार्टी के तीन वीडियो विज्ञापनों के प्रसारण पर रोक लगा दी। ये विज्ञापन कर्नाटक में सत्तारूढ़ कांग्रेस के खिलाफ बनाए गए थे।

समाचार एजेंसी पीटीआइ के अनुसार कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस समिति (केपीसीसी) द्वारा दर्ज कराई गई एक शिकायत के बाद यह रोक लगाई गई है। समिति ने शुक्रवार को मीडिया को इन विज्ञापनों को दिखाने से रोका था। उसने कहा था कि ये विज्ञापन चुनाव आयोग के दिशा-निर्देशों का उल्लंघन करते हैं। कर्नाटक में 12 मई को विधानसभा चुनाव होने हैं।

केपीसीसी की ओर से विधान पार्षद वीएस उगरप्पा ने एमसीएमसी के पास शिकायत दर्ज कराई थी। उन्होंने इन विज्ञापनों को चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन बताया है।

सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के आयुक्त हर्षा पीएस ने अपने आदेश में कहा कि 35-35 सेकेंड के ‘जन विरोधी सरकार’, ‘विफल सरकार’ और 50 सेकेंड के ‘मूरु भाग्य’ के वीडियो चुनाव आयोग के दिशा-निर्देशों का उल्लंघन करते हैं इसकी वजह से इनके प्रसारण पर रोक लगा दी गई है।

उगरप्पा ने अपनी शिकायत में कहा कि ये विज्ञापन भारतीय दंड संहिता के साथ ही लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम के प्रावधानों के विपरीत हैं। शिकायत में यह भी कहा गया है कि कर्नाटक में कई टीवी चैनलों पर विज्ञापनों की श्रृंखला प्रसारित की गई है जो झूठे और भ्रामक हैं। इनमें मुख्यमंत्री की निजी छवि खराब की गई है।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *