एन चंद्रबाबू नायडू और उनके बेटे का हाउस अरेस्ट

नई दिल्ली। आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और टीडीपी प्रमुख चंद्रबाबू नायडू उनके बेटे घर में नज़रबंद किया गया है। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, टीडीपी प्रमुख एन चंद्रबाबू नायडू और उनेके बेट नारा लोकेश को हाउस अरेस्ट कर लिया गया है।

बताया जा रहा है कि जगनमोहन रेड्डी के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान तेलुगु देशम पार्टी के नेता नारा लोकेश ने पुलिस के साथ बहस की, जिसके बाद उन्हें नजरबंद कर दिया गया।

बता दें कि आंध्र प्रदेश में तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) ने आज यानी बुधवार से प्रदर्शन का आह्वान किया है, जिसके बाद राज्य के गुंटूर जिले के पलनाडु क्षेत्र में पुलिस ने प्रतिबंधात्मक आदेश लागू कर दिए हैं। टीडीपी ने वाईएसआर कांग्रेस पार्टी (वाईएसआरसीपी) द्वारा अपने कार्यकताओं पर ‘बढ़ते हमले’ के विरोध में मार्च का आह्वान किया है, जिसके बाद वाईएसआरसीपी ने भी एक जवाबी मार्च करने की योजना बनाई है।

पुलिस महानिदेशक गौतम सवांग ने मंगलवार को यहां कहा कि क्षेत्र में आपराधिक प्रक्रिया संहिता की धारा 144 और पुलिस अधिनियम की धारा 30 लागू कर दी गई है। उन्होंने कहा कि इसके बाद से अब क्षेत्र में किसी भी प्रकार की कोई भी बैठक, रैली, जुलूस और प्रदर्शन करने की अनुमति नहीं है।

जहां एक ओर तेदेपा ने ‘चलो आत्माकुर’ नाम से प्रदर्शन का आह्वान किया है, वहीं पुलिस प्रमुख ने कहा है कि किसी को भी कानून-व्यवस्था बिगाड़ने का अधिकार नहीं है। उन्होंने कहा कि राजनीतिक पार्टियों को चाहिए की वह शांति बनाए रखने में पुलिस की मदद करें।

तेदेपा प्रमुख एन.चंद्रबाबू नायडू ने कहा था कि प्रदर्शन होगा और उनके कार्यकतार्ओं के खिलाफ वाईएसआर कांग्रेस पाटीर् के नेताओं द्वारा की जा रही ज्यादतियों को उजागर किया जाएगा। मार्च का नेतृत्व करने वाले पूर्व मुख्यमंत्री नायडू ने सभी पार्टी नेताओं और कार्यकतार्ओं से कहा है कि वे पुलिस द्वारा रोके जाने की स्थिति में विरोध करें।

तेदेपा का आरोप है कि वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के नेताओं के हमलों में उसके आठ कार्यकतार्ओं की मौत हो चुकी है और इनमें से अधिकांश वारदात पलनाडु में हुई हैं। उधर, वाईएसआर कांग्रेस पार्टी का भी आरोप है कि उसके कार्यकतार्ओं पर तेदेपा ने हमले करवाए हैं।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें