एग्जिट पोल के बाद एक्टिव हुए गडकरी, संघ नेता भैयाजी जोशी के साथ की बैठक

नागपुर। लोकसभा चुनाव सम्पन्न होने के बाद केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी और राष्ट्रीय स्वंय सेवक संघ (आरएसएस) के महासचिव भैयाजी जोशी के बीच नागपुर में हुई बैठक के बाद कयास लगना शुरू हो गए हैं।

राष्ट्रीय स्वंय सेवक संघ (आरएसएस) के महासचिव भैयाजी जोशी ने नागपुर पहुंचकर केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी से मुलाकात की है। उनके साथ बीजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष कैलाश विजयवर्गीय भी मौजूद थे।

गौरतलब है कि कल लोकसभा चुनाव के बाद न्यूज़ चैनलों में दिखाए गए एग्जिट पोल में एनडीए को पूर्ण बहुमत मिलने की उम्मीद जाहिर की गयी है। एग्जिट पोल आने के बाद संघ में नंबर दो की हैसियत रखने वाले भैयाजी जोशी की नितिन गडकरी से मुलाकात को लेकर तरह तरह की अटकलें लगायी जा रही हैं।

गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव से पहले महाराष्ट्र के एक बीजेपी नेता ने नितिन गडकरी का नाम प्रधानमंत्री पद के लिए उछाला था। इसके बाद कई बार नितिन गडकरी को स्वयं इस मामले में सफाई देनी पड़ी। गडकरी ने कहा कि वे प्रधानमंत्री बनने की दौड़ में नहीं हैं।

नितिन गडकरी लोकसभा चुनाव से पहले पूर्व पीएम जवाहर लाल नेहरू और इंदिरा गांधी की तारीफ़ करने के चलते चर्चा में आ गए थे। वहीँ दूसरी तरफ कांग्रेस की तरफ से भी नितिन गडकरी के काम की तारीफ़ की गयी थी।

अब एग्जिट पोल आने के बाद संघ नेता भैयाजी जोशी और नितिन गडकरी के बीच हुई मुलाकात के बाद एक बार फिर उन अफवाहों को बल मिल रहा है , जिनमे दावा किया जा रहा है कि पीएम पद के लिए नितिन गडकरी भी रेस में हैं।

हालाँकि अभी सिर्फ एग्जिट पोल ही आये हैं। चुनावी नतीजे 23 मई को आने हैं। नतीजे आने के बाद ही देश की राजनैतिक तस्वीर साफ़ हो पाएगी लेकिन फिलहाल कयासों का दौर जारी है।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें