उपचुनावों के परिणाम तय करेंगे सियासी समीकरण, सुबह 8 बजे शुरू होगी मतगणना

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश की दो और बिहार की एक लोकसभा सीट तथा बिहार की दो विधानसभा सीटों के लिए हुए उपचुनाव के परिणाम कल घोषित किये जाएंगे। मतगणना के लिए चुनाव आयोग ने आज तैयारियों को अंतिम रूप दिया। आयोग के अनुसार मतगणना के लिए सभी आवश्यक इंतजाम किये गए गए हैं।

मतगणना सुबह आठ बजे से शुरू होगी। इसके दो घंटे पहले छह बजे प्रेक्षक, उम्मीदवार या उनके एजेंट की उपस्थिति में स्ट्रांग रूम की सील तोड़ी जाएगी। प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र के मतों की गिनती के लिए 14 टेबल लगाए गए हैं। एक टेबल आरओ का होगा। मतों की गणना का परिणाम एलईडी स्क्रीन लगाकर प्रदर्शित किया जाएगा। इसके अलावा आरओ माइक से भी घोषणा करेंगे।

चुनाव आयोग के अनुसार मतगणना की शुरूआत पोस्टल बैलट से होगी। मतगणना के रुझान 11 बजे तक सामने आना शुरू हो जाएंगे तथा दोपहर एक बजे तक नतीजे घोषित कर दिए जाएंगे।

मतदान और ईवीएम की पारदर्शिता की तस्दीक कराने के लिए मतगणना के दौरान प्रत्येक विधानसभा की एक-एक वीवी पैट मशीन की पर्ची की भी गिनती की जाएगी। वीवी पैट मशीन का निर्धारण लाटरी सिस्टम से किया जाएगा। इस पूरी प्रक्रिया की वीडियोग्राफी भी कराई जाएगी।

वीवी पैट मशीन की गणना ईवीएम के सभी कंट्रोल यूनिट की गणना समाप्त होने के बाद की जाएगी। उम्मीदवार इस टेबल के लिए एक अलग से एजेंट नियुक्त कर सकते हैं।

बता दें कि उत्तर प्रदेश की दो लोकसभा सीटों फूलपुर और गोरखपुर तथा बिहार की अररिया लोकसभा सीट के उपचुनाव के लिए 11 मार्च को मतदान हुआ था। इसी दिन बिहार की दो विधानसभा सीट जहानाबाद और भभुआ के उपचुनाव के लिए भी मतदान हुआ था।

जानकारों की माने तो उपचुनाव के परिणाम से बिहार और उत्तर प्रदेश के सियासी समीकरण तय होंगे। उत्तर प्रदेश में गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा सीट बीजेपी के लिए प्रतिष्ठा का प्रश्न बन चुकी है।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें