आबरू बचाने के लिए चलती ट्रेन से कूदने को मजबूर हुईं मां बेटी

कानपुर। हावड़ा से दिल्ली जा रहीं एक मां -बेटी को अपनी आबरू बचाने के लिए चलती ट्रेन से कूदना पड़ा है। यह घटना कानपुर के चंदारी स्टेशन के पास की बताई जाती है।

पीड़ित महिला की माने तो वह जनरल टिकिट पर दिल्ली-हावड़ा स्पेशल ट्रेन से दिल्ली रही थी। इस दौरान डिब्बे में बैठे कुछ मनचलो ने उनसे छेड़खानी शुरू कर दी। मां बेटी ने इसका विरोध किया लेकिन मनचले नहीं माने।

महिला के अनुसार डिब्बे में बैठे एक पुलिसकर्मी से भी इसकी शिकायत की गयी लेकिन वह मदद को आगे नहीं आया। पीड़िता के अनुसार जब उसकी बेटी टायलेट गयी तो थोड़ी देर में ही उसके चीखने की आवाज़ आयी। जिसके बाद वह टॉयलेट की तरफ दौड़ी तो देखा एक मनचले ने उसकी बेटी को दबोच रखा है।

महिला के अनुसार उसने किसी तरह अपनी बेटी को उस मनचले के चंगुल से आज़ाद कराया और अपनी आबरू बचाने के लिए चलती ट्रेन से कूद पड़ीं। इस घटना में मां बेटी दोनो ज़ख़्मी हो गयीं हैं। स्टेशन पर लोगों ने एम्बुलेंस को सूचना दी. जिसके बाद पीड़ित महिला और उसकी बेटी को हैलट अस्पताल पहुंचाया गया।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें