बड़ी खबर

आज पूरे बिहार में विश्वासघात दिवस मनाएगी आरजेडी

पटना। बिहार विधानसभा में राष्ट्रीय जनता दल सबसे बड़ी पार्टी होने के बावजूद राज्यपाल द्वारा जनतादल यूनाइटेड को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किये जाने का आरजेडी ने विरोध किया है।

आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि बिहार के राज्यपाल के पास संविधान बचाने का ऐतिहासिक मौका है। सरकार बनाने का न्योता नीतीश को देने और शपथ ग्रहण का समय सुबह दस बजे ही कर देने के विरोध में आरजेडी और कांग्रेस के विधायकों ने राजभवन तक मार्च किया। यह मार्च आरजेडी नेता तेजस्वी और तेजप्रताप के नेतृत्व में हुआ. तेजस्वी के साथ पांच आरजेडी नेता राज्यपाल से मिले। पूरे बिहार में आरजेडी आज विरोध प्रदर्शन करेगी।

उन्होंने कहा कि ये पूरा घटनाक्रम सुनियोजित ढंग से हुआ है। एनडीए के लोगों ने तानाशाह की तरह लोकतंत्र की हत्या करने का प्रयास किया है, बिहार की जनता के ऐतिहासिक जनादेश को अपमानित करने का प्रयास किया है। मुख्यमंत्री के ख‍िलाफ आर्म्स एक्ट, मर्डर तक के गंभीर मामले हैं। कोर्ट में केस चल रहा है। वे इतने दाग होते हुए अब किस मुंह से फिर शपथ लेंगे।

उन्होंने कहा कि आरजेडी सबसे बड़ी दल है, इसलिए उसे सरकार बनाने का न्योता पहले देना चाहिए था। संविधान के मुताबिक जो परंपरा रही है, गवर्नर सबसे बड़े दल को न्योता देते हैं। तेजस्वी ने कहा कि गवर्नर को पहले आरजेडी को बुलाना चाहिए जो कि नहीं हुआ, हमारे पास बड़ी संख्या है। जेडीयू के अधि‍कांश विधायक भी हमारे साथ हैं। हमें फ्लोर पर बहुमत साबित करने का मौका देना चाहिए था।

 

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें

Facebook

Copyright © 2017 Lokbharat.in, Managed by Live Media Network

To Top