आंध्र में पीएम मोदी का दौरा: विरोध में जगह जगह दिखे ‘Modi Never Again’ के होर्डिंग

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आंध्र प्रदेश दौरे के दौरान राज्य में सत्तारूढ़ टीडीपी के कार्यकर्ताओं ने जमकर विरोध जताया। टीडीपी के एनडीए से नाता तोड़ने के बाद पीएम नरेंद्र मोदी का यह पहला आँध्रप्रदेश दौरा है।

पीएम नरेंद्र मोदी के दौरे से एक दिन पहले शनिवार से ही जगह जगह पीएम मोदी के विरोध वाले पोस्टर और होर्डिंग दिखाई देने लगे थे। इन पोस्टरो और होर्डिंग्स पर ‘अब और मोदी नहीं’, ‘मोदी एक भूल’ ‘मोदी दोबारा कभी नहीं’ जैसे स्लोगन लिखे थे।

प्रधानमंत्री मोदी के आंध्र दौरे को लेकर बात करते हुए नायडू ने इससे पहले कहा था कि रविवार का दिन राज्य के लिए ‘काला दिन’ होगा। उन्होंने टीडीपी के अपने सदस्यों और कार्यकर्ताओं से शनिवार को कहा कि वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रविवार को प्रस्तावित राज्य की यात्रा के दौरान विरोध प्रदर्शन करें।

 

पीएम मोदी को लेकर विरोध इस हद तक किया गया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुंटूर के कार्यक्रम में भाग लेने के लिए जिस एयरपोर्ट पर पहुंचेंगे उस एयरपोर्ट के समक्ष भी एक विशालकाय होर्डिंग लगायी गई। इतना ही नहीं पीएम मोदी का विरोध करने के लिए आसमान में काले गुब्बारे उड़ाए गए तथा सोशल मीडिया पर भी एक बड़ी मुहीम दिखाई दी।

पीएम मोदी ने कृष्णपटनम भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन (बीपीसीएल) के नए कोस्टल टर्मिनल प्रोजेक्ट का शिलान्यास किया। पीएम मोदी ने कहा कि ‘अमरावती को आंध्र का ऑक्सफोर्ड भी कहा जाता है। यहां युवा अपने सपने पूरे करने आते हैं। पहली बार वोट डालने वाले युवाओं को शुभकामनाएं देता हूं।’

उन्होंने कहा कि अमरावती पुरानी सभ्यताओं वाला शहर है। नए भारत का सेंटर बनने की पूरी क्षमता है। सैकड़ों करोड़ प्रोजेक्ट का शिलान्यास और उद्घाटन किया गया है। ऊर्जा सुरक्षा के लिए अहम है यह प्रॉजेक्ट।

वहीँ गुंटूर की रैली में पीएम मोदी ने कहा कि नायडू ने अपने ससुर (एनटी रामाराव) की पीठ पर छुरा भोंका है। पीएम मोदी ने अपने भाषण में चंद्रबाबू को एन लोकेश के पिता कहकर बार-बार संबोधित किया।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें