अयोध्या में लगे बीजेपी और मोदी विरोध नारे

लखनऊ। अयोध्या में उस समय माहौल गर्म हो गया जब रामकोट परिक्रमा के दौरान अंतर्राष्ट्रीय हिन्दू परिषद के अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया के समर्थक और पुलिस आमने सामने आ गए।

सैकड़ो की तादाद में जुटे तोगड़िया के समर्थको को पुलिस ने आगे बढ़ने से रोकने की कोशिश की जिस पर नाराज़ हुए तोगड़िया समर्थको ने बीजेपी और पीएम नरेंद्र मोदी के विरुद्ध जमकर नारेबाजी की।

तोगड़िया समर्थक परिक्रमा का मार्ग बदले जाने से नाराज़ थे। इस दौरान पुलिस ने हलके लाठी चार्ज का इस्तेमाल किया तो तोगड़िया समर्थक और भड़क उठे और कुछ देर तक अफरा तफरी का माहौल रहा।

अचानक गर्म हुए माहौल को खुद प्रवीण तोगड़िया ने संभाला। उन्होंने अपने समर्थको से शांति बनाये रखने की अपील की। मामला शांत होने के बाद तोगड़िया अपने समर्थकों संग सरयू तट की ओर रवाना हो गए जहां वह संकल्प सभा करेंगे।

गौरतलब है कि अंतर्राष्ट्रीय हिन्दू परिषद के अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया कल से अयोध्या में हैं। वे आज अयोध्या में अपने नए राजनैतिक दल के नाम की घोषणा कर सकते हैं।

तोगड़िया राम मंदिर निर्माण न हो पाने के लिए लगातार बीजेपी को ज़िम्मेदार ठहराते रहे हैं। अभी हाल ही में उन्होंने संघ प्रमुख मोहन भगवत द्वारा कानून बनाकर मंदिर निर्माण करने के बयान पर कहा था कि चुनाव करीब आये तो बीजेपी और संघ को प्रभु राम याद आ रहे हैं।

इससे पहले लखनऊ से अयोध्या रवाना होने से पहले प्रवीण तोगड़िया से लखनऊ में एक सभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि राम मंदिर का संघर्ष मोदी के सामने शुरू नहीं हुआ है। राजीव गांधी, नरसिंह राव, अटल विहारी वाजपेयी के सामने भी संघर्ष था। मुख्यमंत्री योगी जी ये सपना महंत अवैद्यनाथ जी का भी है।

प्रवीण तोगड़िया ने कहा कि हम चेतावनी देना चाहते हैं कि अगर राम मंदिर के निर्माण कानून बनाकर शुरू नहीं हुआ तो हम प्रधानमंत्री भी बदल सकते हैं। हमें किसी व्यक्ति से प्रेम नहीं है।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें