अब बीजेपी विधायक ने हनुमान को बताया पहला ‘आदिवासी’

नई दिल्ली। बीजेपी नेताओ के अजीबोगरीब बयानों की श्रंखला में अब एक बीजेपी विधायक का बयान और जुड़ गया है। राजस्थान के अलवर से बीजेपी विधायक ज्ञानदेव आहूजा का दावा है कि हनुमान विश्व के पहले आदिवासी नेता थे।

बीजेपी विधायक ने यह भी दावा किया कि आदिवासियों को इकट्ठा कर उनके आराध्य हनुमान ने एक सेना बनाई थी, जिसे प्रभु राम ने खुद प्रशिक्षित किया था। विधायक ने कहा कि दलित संगठनों द्वारा 2 अप्रैल को भारत बंद के दौरान हनुमान की एक तस्वीर का अपमान किया गया था, जिसका उन्हें काफी दुख है।

बीजेपी पार्टी कार्यालय में शुक्रवार को आहूजा ने पत्रकारों से कहा था कि उन्होंने भाजपा सांसद किरोड़ीलाल मीणा से इस बारे में बात की और कहा आप खुद को आदिवासी कहते हैं फिर भी हनुमान जी का सम्मान नहीं करते।

गौरतलब है कि अजीबोगरीब बयान देने के मामले में बीजेपी विधायक ज्ञानदेव आहूजा अकेले नहीं हैं बल्कि हाल ही में त्रिपुरा में बीजेपी सरकार के मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब का नाम भी इसमें शामिल हो चूका है। अपने अजीबोगरीब बयानों के चलते दिल्ली तलब किये गए बिप्लब कुमार देब ने दावा किया था कि महाभारत काल में भी इंटरनेट का चलन था।

वहीँ बीजेपी विधायक ज्ञानदेव आहूजा जेएनयू को लेकर भी वर्ष 2016 में एक विवादित बयान दे चुके हैं। आहूजा ने कहा था कि ‘जेएनयू में हर दिन 3 हजार कॉन्डोम और 2 हजार शराब की बोतलें पाई जाती हैं। पिछले साल भी उन्होंने विवादित बयान में कहा था, ‘जो गोहत्या और गोतस्करी में शामिल होते हैं, उन्हें इसी तरह मार देना चाहिए।’

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें