अब पंजाब नेशनल बैंक में 11 हजार करोड़ के फर्जीवाड़े का खुलासा

नई दिल्ली। महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में पंजाब नैशनल बैंक (पीएनबी) में एक बड़े फजीवाड़े का मामला प्रकाश में आया है। पंजाब नेशनल बैंक ने अपनी मुंबई की एक ब्रांच से जालसाजी के जरिए अनधिकृत ट्रांजैक्शन को पकड़ा है जिसमे कुछ चुने हुए अकाउंट होल्डर को फायदा पहुंचाया जा रहा था।

बैंक द्वारा बाम्बे स्टॉक ऐक्सचेंज को इसकी जानकारी दी गयी है। शेयर बाजार को दी गई सूचना के मुताबिक ब्रांच में कुल 11,360 करोड़ रुपये के फ्रॉड ट्रांजैक्शन्स को अंजाम दिया गया है। इसका असर कुछ दूसरे बैंकों पर भी देखने को मिल सकता है।

हालांकि अभी इस में शामिल किसी शख्स का नाम नहीं लिया गया है, लेकिन जांच एजेंसियों को जानकारी दे दी गयी है। बैंक के अनुसार वह बाद में इस बात का आकलन करेगा कि क्या इन ट्रांजैक्शन से उसकी कोई देनदारी तो नहीं बनती है। इस जानकारी के बाद PNB का शेयर 4 फीसदी से ज्यादा टूट गया।

पिछले सप्ताह CBI ने कहा था कि उसने PNB की शिकायत पर अरबपति जूलर नीरव मोदी के खिलाफ जांच शुरू की है। PNB ने जूलर और कुछ अन्य पर 4.4 करोड़ डॉलर के फर्जीवाड़े की रिपोर्ट दर्ज कराई थी पर अभी यह पता नहीं चल पाया है कि मौजूदा खुलासा इसी मामले से जुड़ा है या इससे अलग है।

गौरतलब है कि पंजाब नेशनल बैंक देश का दूसरा बड़ा बैंक है और कुल संपत्ति के मुताबिक यह देश का चौथा सबसे बड़ा बैंक है। खास बात है कि बैंक ने जाहिर की गई फ्रॉड की सूचना में उन खाताधारकों के नामों का खुलासा नहीं किया है जिन्हें फायदा पहुंचाने की कोशिश की गई है।

हालांकि बैंक ने बताया है कि उसने फ्रॉड में शामिल खाताधारकों का नाम जांच एजेंसियों से साझा किया है और अभी उसे यह आंकलन करना बाकी है कि इन खाताधारकों की फ्रॉड ट्रांजैक्शन के बाद कितनी देनदारी है।

Share

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें