अब चुनाव नहीं लड़ेंगी उमा भारती

नई दिल्ली। बीजेपी की फायर ब्रांड नेता उमा भारती अब चुनाव नहीं लड़ेंगी। चुनाव न लड़ने के अपने फैसले के पीछे उमा भारती ने अपनी उम्र और स्वास्थ्य का हवाला दिया है। उमा भारती झांसी से बीजेपी सांसद हैं।

रविवार को उमा भारती ने संवाददाताओं से अपनी उम्र और स्वास्थ्य का हवाला देते हुए कहा, ‘अब मैं कोई चुनाव नहीं लड़ूंगी, मगर पार्टी के लिए काम करती रहूंगी।’

हालाँकि उमा भारती ने कहा कि वे पार्टी के लिए प्रचार का काम करती रहेंगी। उन्होंने कहा कि वे दो बार सांसद रही हैं, इतनी कम उम्र में उनका शरीर जवाब देने लगा है। कमर और घुटनों में दर्द के चलते चलने-फिरने में परेशानी होती है।

बाबरी मस्जिद विध्वंश में आरोपी उमा भारती ने राम मंदिर के सवाल पर कहा कि न्यायालय अपना फैसला सुना चुका है, लिहाजा आपसी सहमति से राम मंदिर का निर्माण हो जाना चाहिए।

गौरतलब है कि उमा भारती खजुराहो, भोपाल के बाद मौजूदा समय में झांसी से सांसद हैं। वे बड़ा मलेहरा और चरखारी से विधायक रह चुकी हैं वे बुंदेलखंड की बड़ी प्रभावशाली नेता और पूरे देश में हिंदूवादी नेता के तौर पर अपनी पहचान रखती हैं। उमा भारती देश में राम मंदिर आंदोलन शुरू होने के बाद सुर्ख़ियों में आयी थीं।

Share

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें