अजमेर उपचुनाव में एकजुट दिख रही कांग्रेस, नामांकन के मौके पर जुटे पायलट, गहलोत और जोशी

अजमेर। राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सचिन पायलट ने भारतीय जनता पार्टी को विकास के मुद्दे पर बहस की चुनौती दी है। अजमेर उपचुनाव में कांग्रेस उम्मीदवार रघु शर्मा के नामांकन दाखिल करने के मौके पर अजमेर पहुंचे सचिन पायलट ने कहा कि विकास के मुद्दे पर भारतीय जनता पार्टी अपने उम्मीदवार से कांग्रेस उम्मीदवार की खुली बहस करा ले।

इस जनसभा में पूर्व सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि कांग्रेस कार्यकर्ता और नेता घर-घर जाकर रघु शर्मा के लिए वोट मांगें, वोट मांगने से आम आदमी सम्मानित महसूस करता है। भाजपा के पास साधन और सरकारें हैं, कांग्रेस के पास जनता का विश्वास है।

जनसभा में पूर्व मंत्री सीपी जोशी ने केंद्र सरकार और मौदी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा, मोदी ने बड़े-बड़े वादे किए थे, पड़ोसी देशों से संबंध ठीक नहीं कर पाए। मोदी एक भी मौलिक नीति बनाकर लागू नहीं कर पाए। इस अवसर मोहन प्रकाश ने कहा कि इस बार नारा बदलना है, भाजपा कहे …अबकी बार, तो आप कहें… दूर से नमस्कार।

अजमेर में उपचुनाव के नामांकन के मौके पर सचिन पायलट, सीपी जोशी और अशोक गहलोत की मौजूदगी से कांग्रेस में एकजुटता दिखाई दी। समझा जाता है कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के निर्देश पर दोनो नेता एक मंच पर दिखाई दिए। इस अवसर पर राजस्थान कांग्रेस के प्रभारी अविनाश पांडे तथा सह प्रभारी विवेक बंसल भी मौजूद रहे।

वहीँ तीनो नेताओं को एकजुट देख कांग्रेस कार्यकर्ताओं में भी बड़ा जोश दिखाई दे रहा है। अजमेर लोकसभा सीट पर पिछले चुनाव में बीजेपी उम्मीदवार विजयी हुए थे।

जानकारों की माने तो इस बार बीजेपी के लिए सीट निकालना आसान नहीं दिखाई दे रहा। इसका बड़ा कारण राज्य में युवा मतदाताओं की बेरोज़गारी के मुद्दे पर वसुंधरा राजे सरकार से नाराज़गी और किसानो की मोदी सरकार से नराज़गी है।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें