अखिलेश यादव से मिले शरद यादव, मायावती से भी करेंगे मुलाकात

लखनऊ। जदयू के बागी पूर्व सांसद और विपक्ष को एकजुट करने के प्रयासों में जुटे शरद यादव ने आज समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव से उनके आवास पर मुलाकात की।

बैठक के बाद शरद यादव ने मीडिया को अखिलेश यादव से हुई बातचीत का कोई व्यौरा नहीं दिया। शरद यादव ने सिर्फ इतना ही बताया कि वह बीजेपी के खिलाफ देश भर में मोर्चा बनाने के काम में लगे हुए हैं। उन्होंने कहा कि अखिलेश यादव से मुलाकात भी इसी सिलसिले में की गई थी।

उन्होंने कहा कि अखिलेश से भी गठबंधन पर बात हुई है। क्या बात हुई है, यह अभी नहीं बताऊंगा। शरद यादव ने कहा कि गोरखपुर और फूलपुर चुनाव पर सपाऔर बसपा नेताओं ने अच्छा काम किया। उन्होंने कहा कि मायावती से भी जल्द बात होगी. उन्होंने कहा कि यह सभी पार्टियों के साथ आने का समय है।

वहीँ प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने मोदी और योगी सरकार को अपने निशाने पर अवश्य लिया। शरद यादव ने कहा कि मौजूदा केंद्र सरकार की नाकामी है कि रोटोमैक पेन के मालिक विक्रम कोठारी, विजय माल्या और हीरा व्यापारी नीरव मोदी देश से बाहर चले गए।

उन्होंने कहा कि एनडीए के शासनकाल में 26 हजार नौजवानों ने खुदकुशी की है। गाय के नाम पर देश में वोट हासिल करने का प्रयोग किया गया, गाय को कोई कुछ नहीं कह सकता. यहां बस इंसान को कुछ भी कहा जा सकता है।

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार पर निशाना साधते हुए शरद यादव ने कहा कियूपी के सीएम सिर्फ मंदिरों के चक्कर लगा रहे हैं। इन्हें विकास से मतलब नहीं है। उन्होंने कहा कि पहले इन्होंने धर्म के आधार पर लव जेहाद को मुद्दा बनाया, मोहब्बत पर कभी पहरा नहीं रहा, इन्होंने वह भी लगा दिया।

ताजमहल पर बीजेपी नेताओं के बयान पर शरद यादव ने आगे कहा कि ताजमहल को दुनिया सातवां आश्चर्य मानती है और ये लोग पता करने में लगे हैं कि यह मंदिर था या मस्जिद।

ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *